कोरोना की तीसरी लहर की संभावना खत्म होने पर मध्यप्रदेश में खुलेंगे स्कूल,ट्यूशन फीस भी नहीं बढ़ा सकेंगे स्कूल

Author विकास सिंह| Last Updated: सोमवार, 5 जुलाई 2021 (21:04 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए नहीं खोले जाएंगे। स्कूल तभी खोले जाएंगे जब कोरोना की तीसरी लहर की संभावना पूरी तरह खत्म हो जाएगी। वहीं कोरोना महामारी को देखते हुए इस साल स्कूलों में ट्यूशन फीस भी नहीं बढ़ाई जाएगी।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। बच्चों की सुरक्षा और तीसरी लहर की संभावनाओं के कारण स्कूल खोलने का फैसला नहीं ले रहे हैं। तीसरी लहर की संभावना खत्म हुई तो स्कूल खोलने पर विचार करेंगे। वहीं स्कूलों में ट्यूशन फीस इस साल भी नहीं बढ़ाई जाएगी। स्कूल ट्यूशन फीस के अलावा कोई अन्य फीस नहीं लें सकेंगे।



प्रदेश के सभी कोविड प्रभारी मंत्री, अधिकारी, कर्मचारी एवं क्राइसिस मैनेजमेंट समूहों के सदस्यों को टीकाकरण एवं कोविड 19 की संभावित तीसरी लहर पर संबोधित करते हुए कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटीज़ की ज़िम्मेदारी खत्म नहीं हुई है। तीसरी लहर को देखते
हुए सरकार ज़रूरी दवाइयाँ का स्टॉक कर रही है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे है वहीं ऑक्सीजन टैंकर्स की व्यवस्था भी की जा रही है। वहीं बच्चों के लिए अलग से वॉर्ड बनाए जा रहे हैं।



और भी पढ़ें :