दिव्यांगों को घर-घर जाकर कोरोना वैक्‍सीन लगाएगी सरकार

पुनः संशोधित गुरुवार, 23 सितम्बर 2021 (18:24 IST)
नई दिल्ली। सरकार ने गुरुवार को घोषणा की कि लोगों तथा चलने-फिरने में असमर्थ लोगों को उनके घर पर ही कोरोनावायरस (Coronavirus) का टीका लगाया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि देश में कोविड-19 की दूसरी लहर अब भी जारी है, भले ही रोजाना नए मामलों में कमी आ रही है।
बहरहाल, उन्होंने कहा कि पिछले हफ्ते सामने आए के कुल मामलों का 62.73 फीसदी अकेले केरल में दर्ज हुए थे। केरल एकमात्र ऐसा राज्य है जहां उपचाराधीन मरीजों की संख्या एक लाख से अधिक है। अधिकारियों ने कहा कि देश में 33 जिलों में फिलहाल संक्रमण दर 10 फीसदी से अधिक है, जबकि 23 जिलों में संक्रमण दर पांच से 10 फीसदी के बीच है।
ALSO READ:

बीमारी से कैसे जीतें जंग, पढ़िए 5 मोटिवेशनल क्वोट्स
उन्होंने कहा कि आगामी त्योहारों के लिए कोविड-19 दिशानिर्देशों के तहत निरूद्ध क्षेत्रों और पांच फीसदी से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों में भीड़भाड़ से बचना होगा। टीकाकरण अभियान के बारे में उन्होंने कहा कि देश की करीब 66 फीसदी आबादी को टीके की कम से कम एक खुराक दी गई है और 23 फीसदी आबादी का पूरी तरह टीकाकरण हो गया है।

टीकाकरण अभियान में तेजी लाने की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि दिव्यांगों एवं चलने-फिरने में असमर्थ लोगों को उनके घर पर ही टीका लगाया जाएगा।(भाषा)



और भी पढ़ें :