दिल्ली मेट्रो का बड़ा फैसला, यात्री खड़े होकर नहीं कर सकेंगे सफर

Delhi Metro
पुनः संशोधित रविवार, 25 जुलाई 2021 (15:37 IST)
मुख्‍य बिंदु
  • सोमवार से मेट्रो की सभी सीटों पर बैठकर यात्रा कर सकेंगे यात्री
  • प्रति कोच अधिकतम 50 यात्रियों को ही यात्रा की अनुमति
  • कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी
  • DMRC की अपील, आवश्यक होने पर ही मेट्रो से यात्रा करें
नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने सरकार की तरफ से जारी संशोधित दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए रविवार को स्पष्ट किया कि सोमवार से मेट्रो की सभी सीटों पर यात्री बैठकर यात्रा कर सकेंगे लेकिन कोच के भीतर खड़े होकर यात्रा की अनुमति नहीं होगी।
कोरोना काल के बाद यात्रियों को एक सीट को छोड़कर दूसरी सीट पर बैठने की अनुमति थी। दिल्ली मेट्रो ने यह स्पष्टीकरण उन मीडिया खबरों के बाद दिया है जिनमें यह कहा गया था कि दिल्ली मेट्रो सोमवार से अपनी 100 प्रतिशत क्षमता के साथ सेवाओं का संचालन करेगी।

डीएमआरसी ने यह भी स्पष्ट किया है कि सोमवार से प्रति कोच अधिकतम 50 यात्रियों को ही यात्रा की अनुमति होगी क्योंकि कोराना से पहले कोच में खड़े होकर और सीट पर बैठकर यात्रा करने वाली की संख्या लगभग 300 हो जाती थी।
मेट्रो ने यह भी कहा है कि सभी यात्रियों के शरीर के तापमान की जांच, उनके सामान को सैनिटाइज करने तथा यात्रियों की जांच के चलते इसके चलते मेट्रो स्टेशनों के बाहर यात्रियों को लंबी कतारों का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन सरकार के कोरोना संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी है।

डीएमआरसी ने एक बार यात्रियों से अपील की है कि आवश्यक होने पर ही मेट्रो से यात्रा करे और कोरोना संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करें। (वार्ता)



और भी पढ़ें :