चीन में कोरोनावायरस के आंकड़ों ने बढ़ाई दुनियाभर की चिंता, रूस में 1 दिन में रिकॉर्ड मौतें

पुनः संशोधित शनिवार, 23 अक्टूबर 2021 (19:53 IST)
बीजिंग। की राजधानी में शनिवार को कोविड-19 के कुल नौ मामले हो गए। इसके मद्देनजर अधिकारियों ने जांच बढ़ाने और होटल में बुकिंग पर रोक लगाने जैसे कदम उठाए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक देश के विभिन्न हिस्सों में कोविड-19 के स्थानीय स्तर पर संक्रमण फैलने के 38 मामले सामने आए हैं।
बीजिंग में संक्रमित पाए गए 5 लोगों ने इनर मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र, निंग्शिया हुई स्वायत्त क्षेत्र और शांक्सी प्रांत की 12 अक्टूबर से 15 अक्टूबर के बीच यात्रा की थी और ये लोग 16 अक्टूबर को बीजिंग लौटे थे। नगरीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक संक्रमित पाया गया एक अन्य व्यक्ति एक संक्रमित के करीबी संपर्क में आया था। इसके अलावा शुक्रवार को देश में संक्रमण के 32 मामले सामने आए।

संक्रमण के मामलों में वृद्धि के पीछे बताया जा रहा है कि शंघाई के रहने वाले एक बुजुर्ग दंपति हैं, जो शियान समेत कई शहरों में गए और कोविड-19 से पीड़ित पाए गए। इसके बाद अधिकारी इस दंपति के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के काम में जुट गए।

तीन दिन के भीतर उनके करीबी संपर्क में आए सैकड़ों लोगों का पता लगाया गया और उनके साथ यात्रा करने वाले पांच लोग भी बाद में संक्रमित पाए गए।

हांगकांग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक इस दौरान अनेक शहरों में बड़े पैमाने पर जांच की गई और जहां-जहां संक्रमित लोग गए थे, उन्हें बंद कर दिया गया।
में भी बढ़े मामले : रूस में कोविड-19 के कारण शनिवार को रिकॉर्ड 1,075 मरीजों की मौत हुई जबकि कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामले लगातार बढ़ रहे हैं।
रूस के कोरोना वायरस कार्य बल के अनुसार शनिवार को देश में संक्रमण के 37,678 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण के कारण रिकॉर्ड 1,075 लोगों की मौत हुई। देश में महामारी की शुरुआत के बाद एक दिन में सामने आए यह सबसे अधिक मामले हैं।

रूस में अक्टूबर में प्रतिदिन कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मरने वाले लोगों की संख्या सितंबर के मुकाबले 33 प्रतिशत अधिक है जबकि पिछले महीने की अपेक्षा नए मामलों की संख्या में 70 प्रतिशत की वृद्धि है।
रूस की कुल 14.6 करोड़ की आबादी के केवल एक तिहाई लोगों ने ही कोविड टीकाकरण कराया है। देश के स्वास्थ्य ढांचे पर दबाव काफी बढ़ गया है।

रूस में कोविड टीकाकरण को लेकर लोगों में उत्साह की काफी कमी है और लोग टीका लगवाने से हिचक रहे हैं। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने लोगों को 30 अक्टूबर से सात नवंबर तक घर में ही रहने के निर्देश दिए हैं।

महामारी की भयावह लहर का सामना कर रहे रूस के कई प्रांतों में जिम, सिनेमाघरों और रेस्तरां आदि को बंद करने जैसे अतिरिक्त प्रतिबंध भी लगाए जा रहे हैं।
रूस के कोरोना वायरस कार्यबल के अनुसार देश में अब तक कोविड-19 के 82 लाख मामलों की पुष्टि हो चुकी है जबकि महामारी के कारण 2,29,528 लोगों की मौत हो चुकी है। रूस दुनिया का पहला देश था जिसने अगस्त 2020 में कोविड-19 रोधी टीके के रूप में स्पूतनिक वी को लॉन्च करते हुए इसे मान्यता दी थी।

पुतिन ने लोगों से कोविड-19 टीका लगवाने की अपील करते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के पास केवल दो विकल्प हैं, कोविड-19 से संक्रमित होकर बीमार पड़ना अथवा इससे बचने के लिए टीकाकरण कराना।



और भी पढ़ें :