तेजी से पैर पसार रहा ओमिक्रॉन, महाराष्ट्र में 7 और राजस्थान में मिले 9 नए मामले, 5 राज्यों तक फैला नया वैरिएंट

Last Updated: सोमवार, 6 दिसंबर 2021 (00:28 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। में रविवार को वैरियंट के 9 मामले, में 7 नए मामलों तथा दिल्ली में एक मामले की पुष्टि के बाद देश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है।
राजस्थान में कोरोनावायरस के नए ओमिक्रॉन के 9 मरीज पाए गए हैं। चिकित्सा विभाग के सचिव वैभव गालरिया ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार की जिनोम सीक्वेंसिंग की रिपोर्ट में 9 लोग कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से ग्रसित पाए गए हैं।
ALSO READ:

अपनी ही पार्टी पर भड़के वरुण गांधी, लखनऊ में लाठीचार्ज को लेकर यूपी सरकार को घेरा
गालरिया ने बताया कि विभाग ने दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार के 4 लोगों को पूर्व में ही आरयूएचएस अस्पताल में भर्ती करवा दिया था। उनके संपर्क में आए 5 अन्य लोग भी संक्रमित पाए गए हैं, इन्हें भी आरयूएचएस में भर्ती किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार सहित उनके सम्पर्क में आए 34 लोगों के सैंपल लिए गए थे। इनमें से नौ लोग कोरोना संक्रमण के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि परिवार के संपर्क में सीकर जिले के अजीतगढ़ का एक परिवार भी आया था।

विभाग ने सीकर में उन सभी 8 लोगों की भी ट्रेसिंग की वे सभी कोरोना नेगेटिव पाए गए हैं। उन्होंने बताया की सम्पर्क में आए सभी लोगों की व्यापक स्तर पर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग कर सैंपल लिए जा रहे हैं।
गालरिया ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका से आए परिवार के जयपुर में आने के बाद से ही विभाग पूरी तरह सक्रिय था तथा लगातार इनकी मॉनिटरिंग की जा रही थी। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा सघन कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है संपर्क में आए सभी लोगों की पहचान कर उपचार प्रारंभ कर दिया जाएगा।
महाराष्ट्र में आज 7 और लोग ओमिक्रॉन वैरियंट से ग्रसित पाए गए। इसके साथ ही राज्य में ओमिक्रॉन से ग्रसित मरीजों की संख्या आठ हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि पिंपरी-चिंचवाड़ नगर क्षेत्र से 6 मामले सामने आए जबकि पुणे जिले में एक मामले का पता चला।

वायरस से प्रभावित लोग अफ्रीका के विभिन्न देशों और फिनलैंड से आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक नाइजीरियाई महिला को हल्के लक्षण थे जबकि अन्य 5 में कोई लक्षण नहीं पाए गए। इन छह में से तीन 18 वर्ष से कम उम्र के हैं जिन्होंने कोई वैक्सीन नहीं लिया था जबकि तीन वयस्कों ने टीकों के दोनों डोज लिए थे।
इससे पहले ओमिक्रॉन के पहले दो मामले शुक्रवार को कर्नाटक के बेंगलुरु से सामने आये थे जबकि तीसरा मामला गुजरात के जामनगर से तथा चौथा मामला महाराष्ट्र के डोमिंवली से सामने आया था। इसके अलावा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हाल ही में तंजानिया से लौटे 37 वर्षीय व्यक्ति के ओमीक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मरीज को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां दिल्ली सरकार की ओर से ओमीक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित पाए जाने वालों के लिए नोडल सुविधा दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि मरीज दो दिसंबर को दिल्ली लौटा था और उसमें बीमारी के हल्के लक्षण देखे गए हैं। मरीज का इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोविड ​​-19 परीक्षण किया गया था। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया और उसका नमूना दिल्ली में एक आईएनएसएसीओजी प्रयोगशाला में भेजा गया।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आज आई उनकी जीनोम अनुक्रमण रिपोर्ट में ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। अधिकारियों ने यह भी कहा कि करीब 17 यात्रियों ने केंद्र के नामित ‘जोखिम में’ देशों की यात्रा की है। उन्हें कोविड संक्रमित पाए जाने के बाद लोकनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

5 राज्यों में फैला ओमिक्रॉन वेरिएंट
राजस्थान में 9 मामले
महाराष्ट्र में 8 मामले
कर्नाटक में 2 मामले
गुजरात में 1 मामला
दिल्ली में 1 मामला



और भी पढ़ें :