'देवी आदि पराशक्ति' में भगवान शिव का किरदार निभा रहे तरुण खन्ना ने पौराणिक शो के बारे में कही यह बात

पुनः संशोधित बुधवार, 25 नवंबर 2020 (17:22 IST)
एक अभिनेता अपने चरित्र को निभाने के लिए अपनी तरफ से उत्तम प्रयास करने में विश्वास करता है। वे केवल उनके काम और अपने समर्पण से पहचाने जाते हैं। चाहे वह कितना भी चुनौतीपूर्ण हो, यदि आप अपना 100 प्रतिशत देते हैं तो यह निश्चित रूप से आपके काम में प्रतिबिंबित होती है।

अभिनेता तरुण खन्ना जो वर्तमान में दंगल टीवी के देवी आदि पराशक्ति में के रूप में दिखाई दे रहे हैं, वे इस पर अपने विचार साझा करते हुए देखे जा सकते हैं।

एक पौराणिक शो में काम करने के बारे में बोलते हुए तरुण कहते हैं, सच कहूं तो मुझे लगता है कि एक पौराणिक शो के लिए एक किरदार निभाना थोड़ा चुनौतीपूर्ण और मुश्किल हो सकता है क्योंकि वो निभाने के लिए बहुत मेहनत की ज़रूरत होती है। टीवी उद्योग में कुछ उदाहरण हैं कि आपकी मेहनत का सम्मान नहीं किया जाता है और जितनी प्रशंसा करनी चाहिए उतनी वास्तव में नहीं होती।

किसी को यह समझना चाहिए कि भगवान के किरदार को निभाना आसान नहीं है, उनकी तरह विचार करना कठिन होता है। उनके बारे में कोई नहीं जानता। सब केवल इसकी कल्पना कर सकते हैं। लेकिन पौराणिक चरित्र को इस कारण के वजह से मुझे इन सभी चुनौतियों में बेहतर करने और उत्कृष्टता के लिए प्रयास करने में मदद मिलती है।
हम इस तथ्य से इनकार नहीं कर सकते हैं कि वास्तव में एक ऐसे चरित्र को चित्रित करना कितना मुश्किल हो सकता है, जिसके बारे में आपने केवल सुना हो, और तरुण खन्ना ने निश्चित रूप से इसमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।




और भी पढ़ें :