अपनी फिल्मों में सिर्फ लता मंगेशकर की आवाज चाहती थीं मधुबाला, बनवाया था कॉन्ट्रैक्ट

पुनः संशोधित शनिवार, 14 मई 2022 (14:23 IST)
हमें फॉलो करें
भारतीय फिल्म उद्योग की एक समृद्ध विरासत है। हमने दिग्गजों को सिल्वर स्क्रीन पर प्रदर्शन करते देखा है और इसी तरह जैसी दिग्गज गायिकाएं अपनी सुनहरी आवाज से संगीत प्रेमियों की पीढ़ियों को खुश करती हैं। ऐसे में हाल ही में लॉन्च हुआ 'नाम रह जाएगा' अब एक घरेलू नाम बन गया है।

लता मंगेशकर के जीवन के एक नए अध्याय के बारे में जानने के लिए दर्शक हमेशा आने वाले एपिसोड को देखने के लिए उत्सुक रहते हैं। इससे जुडी दिलचस्प बात यह है कि जानी मानी गायिका, अलका याज्ञनिक ने महान गायिका के बारे में एक शानदार कहानी साझा की है, जो शायद ही कोई जानता होगा।

एक संगीतकार, फिल्म निर्माता या किसी भी अभिनेता के लिए यह एक आशीर्वाद था कि उन्हें अपनी फिल्म में लता जी की आवाज को शामिल करने का मौका मिलता है। उसी के बारे में बात करते हुए, भारत के सबसे पॉपुलर प्लेबैक गायकों में से एक, अलका याज्ञनिक ने कहा है, मधुबालाजी पहली अभिनेत्री थीं जिन्होंने कॉन्ट्रैक्ट्स करना शुरू किया था, जिसमें कहा गया था कि उनकी फिल्मों में सिर्फ लता मंगेशकर ही गाने गाएंगी।

उन्होंने कहा, हर कोई चाहता था कि सिर्फ लताजी ही उनके गाने गाएं, इसलिए हमेशा डेट्स की कमी रहा करती थी, और इस तरह से लोग उन्हें मनाने के लिए किसी भी हद तक जाया करते थे। साथ ही, जब वहीदा रहमान को पता चला कि लताजी को चॉकलेट्स बहुत पसंद हैं तो उन्होंने उन्हें चॉकलेट्स भेजना शुरू कर दिया ताकि लताजी उनके साथ स्टेज शो करने के लिए राजी हो जाएं। हर नई अभिनेत्री चाहती थी कि किसी दिन लताजी उनके लिए अगर गए दिया करती थी, तब उन सभी को भी लताजी से प्यार हो जाता था।
गजेंद्र सिंह द्वारा परिकल्पित और निर्देशित, साईंबाबा स्टूडियोज के 8 एपिसोड सीरीज 'नाम रह जाएगा' में देश के 18 सबसे बड़े गायक शामिल हैं। इसमें सोनू निगम, अरिजीत सिंह, शंकर महादेवन, नितिन मुकेश, नीति मोहन, अलका याज्ञनिक, साधना सरगम ​​, उदित नारायण, शान, कुमार शानू, अमित कुमार, जतिन पंडित, जावेद अली, ऐश्वर्या मजूमदार, स्नेहा पंत, प्यारेलाल जी, पलक मुच्छल और अन्वेषा ने लता मंगेशकर को श्रद्धांजलि देने के लिए हाथ मिलाया हैं।




और भी पढ़ें :