लाल सिंह चड्ढा : 14 साल पहले आमिर खान को आया था 'फॉरेस्ट गंप' का रीमेक बनाने का आइडिया, राइट्स मिलने में लग गए 8 साल

पुनः संशोधित सोमवार, 4 जुलाई 2022 (16:10 IST)
हमें फॉलो करें
बॉलीवुड एक्टर इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' को लेकर सुर्खियों में है। यह फिल्म हॉलीवुड फिल्म 'फॉरेस्ट गंप' का आधिकारिक हिन्दी रीमेक है। इस फिल्म को बनाने का विचार आमिर खान 14 साल पहले ही कर चुके थे।


4 जुलाई 2008 को कल्ट क्लासिक 'जाने तू... या जाने ना' के प्रीमियर के दौरान, आमिर खान और अतुल कुलकर्णी के बीच आपस में बातचीत हुई थी, जहां दोनों ने सिनेमा के प्रति अपने प्यार और के सिनेमाई आश्चर्य से वे कितने मोहित थे, इस पर चर्चा की थी। दोनों एक्टर्स का मानना था कि ये फिल्म दूर-दूर लोगों तक पहुंचनी चाहिए।

इसी बातचीत के बाद अतुल कुलकर्णी ने 'लाल सिंह चड्ढा' लिखने के लिए प्रेरित महसूस किया, जो अब 11 अगस्त 2022 को रिलीज़ होने वाली है। फिल्म 'जाने तू... या जाने ना' को रिलीज हुए 14 साल हो चुके हैं और 'लाल सिंह चड्ढा' के आइडिया को भी अब 14 साल हो चुके हैं। इस प्रोडक्शन के पीछे का मकसद एक मासूम युवक की कहानी बताना था जो खुशी के साथ जीवन जीने का रास्ता ढूंढता है। इस तरह की कहानियों को बंद डिब्बे के अंदर रखने के बजाए उन्हें बताया जाना चाहिए।

आमिर खान प्रोडक्शंस को फॉरेस्ट गंप के अधिकार हासिल करने में लगभग 8 साल लग गए। बिना किसी शक के, 'लाल सिंह चड्ढा' आमिर खान प्रोडक्शंस की सबसे महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से एक है। 'जाने तू... या जाने ना' उस समय एक बड़ी सफलता थी। फिल्म आज भी भारत के युवाओं की पहचान बताती है और पॉप कल्चर के साथ गूंजती है। म्यूजिक से लेकर सिनेमैटोग्राफी तक फिल्म की हर चीज को दर्शकों ने खूब सराहा।
लगान के बाद, यह आमिर खान प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित पहली कुछ फिल्मों में से एक थी और उनके द्वारा लिए गए हर प्रोजेक्ट में 100 प्रतिशत सफलता अनुपात हासिल करने में भी सफल रही। आमिर खान प्रोडक्शंस, किरण राव और वायकॉम 18 स्टूडियोज द्वारा निर्मित 'लाल सिंह चड्ढा' में करीना कपूर खान, मोना सिंह और नागा चैतन्य भी हैं। फिल्म 11 अगस्त को सिनेमाघरों में आने के लिए तैयार है।



और भी पढ़ें :