शाहरुख-काजोल : सफल और बेमिसाल जोड़ी

बॉलीवुड में कुछ जोड़ियां ऐसी हुई हैं जिन्हें दर्शकों ने खूब पसंद किया है। ऐसा लगता है मानो वे एक-दूजे के लिए बने हो। परदे पर उनके बीच रोमांस देख दर्शक खुश हो जाते हैं। राज कपूर और नरगिस ने कई फिल्में साथ की। कामयाबी हासिल की। धर्मेन्द्र-हेमा मालिनी को भी साथ में देख लगता है कि वे 'मेड फॉर इच अदर' हों। दोनों ने भी सफल फिल्मों की लाइन लगा दी। शाहरुख-का भी यही आलम है। कमाल की जोड़ी लगती है ये। दोनों जब साथ होते हैं तो दर्शक रोमांचित हो जाते हैं। ऐसा लगता है दोनों के साथ सब कुछ अच्छा हो। उनके बीच कोई तीसरा न हो। एक खास बात और है इस जोड़ी की। सौ प्रतिशत सफलता का‍ रिकॉर्ड है दोनों का। यहां तक यदि काजोल ने शाहरुख की फिल्म में मेहमान भूमिका भी निभा ली तो भी फिल्म सफल। अंधविश्वास के मारे फिल्म उद्योग में इसी वजह से करण और आदित्य चोपड़ा ने बजाय अपनी काबिलियत के काजोल के भाग्य पर भरोसा किया और कई बार अपनी फिल्मों में शाहरुख के साथ कुछ सेकंड के लिए काजोल को भी ले लिया। छोटी-मोटी भूमिकाओं सहित काजोल और शाहरुख एक ही फिल्म में 11 बार नजर आए। दिलवाले उनकी 12वीं फिल्म है। यहां बात करते हैं उन फिल्मों की जिनमें काजोल और शाहरुख ने लीड रोल निभाएं। इनमें से आप किस फिल्म को दोनों की बेहतरीन फिल्म मानते हैं, ये भी बताएं। 
 
बाजीगर में दोनों की जोड़ी अचानक जम गई। काजोल की पहली फिल्म 'बेखुदी' पिट चुकी थी और उन्होंने जो फिल्म मिली साइन कर ली। 'बाजीगर' को कई स्टार ठुकरा चुके थे। हत्यारे और बदला लेने वाले का रोल कोई नहीं करना चाहता था। शाहरुख ने जोखिम लिया और इस तरह से शाहरुख-काजोल की जोड़ी जमाई गई। फिल्म सुपरहिट रही और दर्शकों ने दोनों को पसंद किया। 


आपकी राय

शाहरुख-काजोल की साथ की गई सर्वश्रेष्ठ फिल्म आप किसे मानते हैं?



और भी पढ़ें :