सम्राट पृथ्वीराज की कामयाबी अक्षय कुमार के लिए बेहद जरूरी

की फिल्म 'पृथ्वीराज' 3 जून को रिलीज होने जा रही है और यह अक्षय कुमार के करियर की सबसे महंगी फिल्मों में से एक है। इस फिल्म की कामयाबी अक्षय के लिए खास मायने रखती है। अक्षय की पिछली फिल्म 'बच्चन पांडे' पर बुरी तरह असफल रही थी। इसकी असफलता का जिम्मेदार 'द कश्मीर फाइल्स' की लहर को माना गया जबकि उसमें कोई बड़ा सितारा नहीं था जबकि बच्चन पांडे में कई नामी गिरामी सितारे थे और बड़ा बैनर था।


की कामयाबी अक्षय के लिए इतनी अहम क्यों?
आमतौर पर अक्षय कुमार की फिल्म का बजट बेहद संतुलित होता है और सवा सौ करोड़ रुपये का कलेक्शन करते ही फिल्म कामयाब हो जाती है। कई बार तो इससे कम कलेक्शन पर भी फिल्म पर हिट का सेहरा बन जाता है। अक्षय अपनी फीस तो जम कर लेते हैं, लेकिन अन्य खर्चे काफी कम होते है। जैसे उनकी फिल्म में नामी हीरोइन नहीं होती। तेजी से काम करने के कारण शूट जल्दी खत्म हो जाता है। इसी तरह की तरकीब लगाकर उनकी कम बजट में तैयार हो जाती है।

सम्राट पृथ्‍वीराज महंगी फिल्म है। पहली बार अक्षय इस तरह की फिल्म और किरदार निभा रहे हैं। बॉक्स ऑफिस पर दमदार प्रदर्शन इस फिल्म को करना होगा। दो सौ से ढाई सौ करोड़ तक का कलेक्शन करना होगा। तब जाकर फिल्म को कामयाब कहा जा सकेगा।

अक्षय कुमार के करियर पर निगाह डाली जाए तो बहुत कम फिल्में उनकी ऐसी हैं जो दो सौ करोड़ का आंकड़ा पार कर पाई है। गुड न्यूज का नाम ही ध्यान आता है। सूर्यवंशी भी दो सौ करोड़ के नजदीक ही पहुंच पाई थी। ऐसे में अक्षय को सम्राट पृथ्‍वीराज के जरिये साबित करना होगा कि उनकी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर बड़ी सफलता हासिल कर सकती है। यह 'सम्राट पृथ्वीराज' का प्रदर्शन उम्मीद से कम रहा तो माना जाएगा कि अक्षय की स्टार वैल्यू इतनी नहीं है कि उनको लेकर बड़ी फिल्म बनाई जाए।



और भी पढ़ें :