भारतीय फिल्म इतिहास में पहली-पहली बार

समय ताम्रकर|
प्रथम सिनेमा प्रदर्शन : 7 जुलाई 1896 बंबई के वॉटसन हॉल में।

प्रथम सिनेमा विज्ञापन : टाइम्स ऑफ इंडिया के 7 जुलाई 1896 के अंक में प्रकाशित

प्रथम सिनेमा हॉल : एलफिन्सटन पिक्चर पैलेस, कलकत्ता 1907 में जेएफ मदान ने बनाया।

प्रथम नगर जहां फिल्म निर्माण हुआ : बंबई, 1912।

प्रथम थिएट्रिकल फिल्म : 'पुंडलिक', मई 1912 में प्रदर्शित।
प्रथम भारतीय फीचर फिल्म : 'राजा हरीशचन्द्र', दादा साहेब फालके द्वारा निर्मित और बंबई में 3 मई, 1913 को
प्रदर्शित।

प्रथम भारतीय फिल्म जो विदेश में प्रदर्शित हुई : 'राजा हरीशचन्द्र' 1914 में लंदन में दिखाई गई।

प्रथम सिनेमा पोस्टर : बाबूराव पेंटर ने 1920 में अपनी फिल्म 'वत्सलाहरण' का पोस्टर द्वारा विज्ञापन किया।
प्रथम फीचर फिल्म जो बंगाल में निर्मित हुई : 'नल-दमयंती' 1917 में जेएफ मदान द्वारा निर्मित।

प्रथम दक्षिण भारतीय फिल्म : 'भीष्म प्रतिज्ञा' 1921 में मद्रास में ईस्ट फिल्म कंपनी केआर वेंकैया और आर.
प्रकाश द्वारा निर्मित।

प्रथम बोलती फिल्म जो भारत में प्रदर्शित हुई : 'मेलॉडी ऑफ लव' 1929 में कलकत्ता के एलफिन्सटन पिक्चर पैलेस में प्रदर्शित।
प्रथम भारतीय बोलती फिल्म : 'आलम आरा' आर्देशिर ईरानी द्वारा निर्मित। 14 मार्च, 1931 को बंबई के मैजेस्टिक सिनेमा में प्रदर्शित।

प्रथम मराठी बोलती फिल्म : 'अयोध्याचा राजा' (मराठी) और 'अयोध्या का राजा' (हिन्दी) प्रभात फिल्म कंपनी द्वारा 1932 में निर्मित।

प्रथम बंगाली में बोलती फिल्म- 'जमाई षष्टी', मदान थिएटर्स द्वारा 1931 में निर्मित।
प्रथम बोलती तमिल फिल्म- 'कालिदास', सागर मूवीटोन द्वारा निर्मित।

प्रथम पंजाबी में बोलती फिल्म- 'हीर-रांझा', (हिन्दी) हकीम रामप्रसाद द्वारा 1932 में निर्मित।

दक्षिण में प्रथम नि‍र्मित बोलती फिल्म : 'श्रीनिवास कल्याणम्' (1934) मद्रास में श्रीनिवास सिनेटोन द्वारा निर्मित।
प्रथम तेलुगु बोलती फिल्म : 'सीताकल्याणम्' (1934) पीवी हास द्वारा निर्मित।

प्रथम मलयालम बोली फिल्म : बालन (1938) मॉडर्न थिएटर्स द्वारा सलेम में निर्मित।

दक्षिण से प्रथम हिन्दी बोलती फिल्म : 'प्रेमसागर' (1939) के. सुब्रमण्यम द्वारा निर्देशित और निर्मित।
प्रथम कार्टून फिल्म : ऑन ए मुनलिट नाइट, आरसी बोराल द्वारा निर्मित।

प्रथम सिनेमास्कोप फिल्म : कागज के फूल (1959) गुरुदत्त द्वारा निर्मित।

प्रथम एक ही अभिनेता द्वारा अभिनीत ‍फीचर फिल्म : यादें (1964), सुनील दत्त द्वारा निर्मित-निर्देशित।

प्रथम 70 एमएम टेक्नीकलर फिल्म : अराउंड द वर्ल्ड (1967) पाछी द्वारा निर्मित।
प्रथम सिल्वर जुबली हिंदी फिल्म : अमृत मंथन- 1934 में प्रभात फिल्म कंपनी द्वारा निर्मित।

प्रथम भारतीय फिल्मों का अभिनेता (नायक-नायिका) : ए. सालुंके ने 1917 में फालके द्वारा निर्मित 'लंका दहन' में राम और सीता दोनों का अभिनय किया।

प्रथम महिला अभिनेत्री : कमला बाई गोखले। एक महाराष्ट्रीयन महिला ने 1013 में 'भस्मासुर मोहिनी' में अभिनय किया।
प्रथम पुरुष अभिनेता द्वारा महिला भूमिका : ए. सालुंके द्वारा राजा हरिश्चन्द्र (1913) में तारामती की भूमिका अभिनीत।

प्रथम नायक : दत्तात्रय दामोदर डबके ने 1913 में 'राजा हरिश्चन्द्र' में अभिनय किया।

प्रथम हॉलीवुड प्रशिक्षित भारतीय : सुचेतसिंह ने 1918 में चार्ली चैप्लिन के सहयोगी के रूप में कार्य किया और ओरिएंटल फिल्म मैन्युफैक्चरिंग कंपनी की स्थापना कर 'शंकुतला' फिल्म बनाई।
विदेश में प्रथम प्रशिक्षित भारतीय तकनीशियन : दादा साहेब फालके।

प्रथम महिला फिल्म निर्देशक : बेगम फातिमा सुलतान।

प्रथम फिल्म गीत : 'दे दे खुदा के नाम पर।' 1931 में आलमआरा फिल्म के लिए रिकॉर्ड हुआ।

प्रथम फिल्म गायक : डब्ल्यू.एक. खान- इंपीरियल फिल्म कंपनी में 'आलमआरा' का गीत गाया।
प्रथम संगीत निर्देशक : फिरोज शाह मिस्त्री, 'आलमआरा' में संगीत निर्देशक।

प्रथम सर्वाधिक गीतों वाली फिल्म : 'इंद्रसभा', 1932 में मदान थिएटर्स द्वारा निर्मित इस फिल्म में 71 गाने थे।

प्रथम बार पार्श्वगायन का आरंभ : फिल्म 'भाग्यचक्र' (1934)। निर्देशक- नितिन बोस।
प्रथम अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने वाली फिल्म : नीचा नगर (1946)। निर्देशक- चेतन आनंद।

अंग्रेजी में निर्मित प्रथम भारतीय फिल्म कोर्ट डांसर (1941) निर्देशक : वाडिया।

राष्ट्रपति का स्वर्ण पदक पाने वाली प्रथम फिल्म- श्यामची आई (1953- मराठी)। निर्देशक पीके अत्रे।



और भी पढ़ें :