भक्त प्रह्लाद और नृसिंह भगवान के प्रभावशाली मंत्र, होली पर जपेंगे तो होंगे मनचाहे ख्वाब पूरे

bhakt prahlad narsingh avtar
bhakt prahlad narsingh avtar
पुनः संशोधित बुधवार, 16 मार्च 2022 (15:26 IST)
हमें फॉलो करें
Holi 2022 : 17 मार्च 2022 गुरुवार को रात में होलिका दहन होगा। होलिका की पूजा करते हुए होलिका, प्रहलाद और भगवान नृसिंह के मंत्र का जाप करते हैं साथ ही जब होलिका दहन किया जाता है तब और जब उसकी राख का लेपन किया जाता है तब भी विशेष मंत्रों का जाप करते हैं। आओ जानते हैं कि पूजा के कौनसे हैं 5 शुभ मंत्र।



होलिका पूजन मंत्र ( Holika Pooja Mantra)

भक्त प्रहलाद और भगवान नृसिंह के मंत्र- Bhakt prahlad and :


1. भक्त प्रह्लाद के लिए मंत्र: ओम प्रह्लादाय नम:
2. भगवान नरसिंह के लिए मंत्र: ओम नृसिंहाय नम:

3. नृसिं भगवान का गायत्री मंत्र : ॐ वज्रनखाय विद्महे तीक्ष्ण दंष्ट्राय धीमहि। तन्नो नरसिंह प्रचोदयात।।

4. भगवान नृसिंह के पूजन का मंत्र- नृसिंह देवदेवेश तव जन्मदिने शुभे। उपवासं करिष्यामि सर्वभोगविवर्जितः॥

5. भगवान नृसिंह के बीज मंत्र- ॐ श्री लक्ष्मीनृसिंहाय नम:।।
अन्य मंत्र :
1. होलिका के लिए मंत्र: ओम होलिकायै नम:

2. होलिका दहन की अग्नि में सभी सामग्रियों को अर्पित करते वक्त इस मंत्र का जाप करें- अहकूटा भयत्रस्तैः कृता त्वं होलि बालिशैः। अतस्वां पूजयिष्यामि भूति-भूति प्रदायिनीम्।

3. भस्म को सिर पर लगाते समय जपें:
वंदितासि सुरेन्द्रेण ब्रह्मणा शंकरेण च।
अतस्त्वं पाहि मां देवी! भूति भूतिप्रदा भव।।



और भी पढ़ें :