अच्छी आदतों से ग्रहों को करें शांत, जानिए 14 काम की बातें

planets
मनुष्य जन्म से लेकर अपनी कार्यप्रणाली अनुसार कर्म करता है। जाने-अनजाने में शुभ-अशुभ दोनों ही कर्म करता है। सात्विक व तामसी प्रवृत्ति प्रत्येक व्यक्ति के अंदर होती है। हम छोटी-छोटी-सी आदतों से भी अपने जीवन में ग्रहों को ठीक व अपने अनुकूल कर सकते हैं।
जानिए छोटी-छोटी आदतों से कैसे सुधारें ग्रहों को?

1. मंदिर को साफ करते हैं तो बृहस्पति बहुत अच्छे फल देगा।

2. अपनी जूठी थाली या बर्तन उसी जगह पर छोड़ना, सफलता में कमी।

3. जूठे बर्तन को उठाकर जगह पर रखते हैं या साफ कर लेते हैं तो चंद्रमा व शनि ग्रह ठीक होते हैं।

4. देर रात जागने से चंद्रमा अच्छे फल नहीं देता है।

5. कोई भी बाहर से आए, उसे स्वच्छ पानी जरूर पिलाएं, राहु ग्रह ठीक होता है। राहु का बुरा प्रभाव नहीं पड़ता।
6. रसोई को गंदा रखते हैं तो आपको मंगल ग्रह से दिक्कत आएंगी। रसोई हमेशा साफ-सुथरी रखेंगे तो मंगल ग्रह ठीक होता है।

7. घर में सुबह उठकर पौधों को पानी दिया जाता है तो हम बुध, सूर्य, शुक्र और चंद्रमा को मजबूत करते हैं।

8. जो लोग पैर घसीटकर चलते हैं, उनका राहु खराब होता है।

9. बाथरूम में कपड़े इधर उधर फेंकते हैं, बाथरूम में पानी बिखराकर आ जाते हैं तो चंद्रमा अच्छे फल नहीं देता है।
10. बाहर से आकर अपने चप्पल, जूते व मोजे इधर-उधर फेंक देते हैं, तो उन्हें शत्रु परेशान करते हैं।

11. राहु और शनि ठीक फल नहीं देते हैं अगर बिस्तर हमेशा फैला हुआ हो, सलवटें हों। चादर कहीं, तकिया कहीं है।

12. चीखकर बोलने से शनि खराब होता है।

13. बुजुर्गों के आशीर्वाद से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है तथा गुरु ग्रह अच्छा होता है।

14. अपशब्द बोलने व गालियां देने से गुरु और बुध खराब होते हैं। यदि आप भी गालियां देने के शौकीन हैं तो बुढ़ापे में बिस्तर पकड़ने के लिए तैयार रहें।




और भी पढ़ें :