तेनालीराम की कहानियां : सीमा की चौकसी

WD|
FILE


विजयनगर में पिछले कई दिनों से तोड़-फोड़ की घटनाएं बढ़ती जा रही थीं। राजा कृष्णदेव राय इन घटनाओं से काफी चिंतित हो उठे। उन्होंने मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई और इन घटनाओं को रोकने का उपाय पूछा।

‘पड़ोसी दुश्मन देश के गुप्तचर ही यह काम कर रहे हैं। हमें उनसे नर्मी से नहीं, सख्ती से निबटना चाहिए’, सेनापति का सुझाव था।

‘सीमा पर सैनिक बढ़ा दिए जाने चाहिए ताकि सीमा की सुरक्षा ठीक प्रकार से हो सके’, मंत्रीजी ने सुझाया।





और भी पढ़ें :