शुरुआती तेजी के बाद गिरा सेंसेक्स

मुंबई (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
भारत-अमेरिकी परमाणु करार पर माकपा के कड़े बयान ने शुक्रवार को दलाल स्ट्रीट पर असर दिखाया और सुबह तेजी प्रदर्शित कर रहा सेंसेक्स अंतत: 26 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ।


माकपा ने कहा है कि वामपंथी दल भारत को अमेरिका का सहयोगी नहीं बनने देंगे। इससे मुनाफावसूली तेज हो गई। विदेशी संस्थागत निवेशक और स्थानीय निधियाँ पूरे दिन के कारोबार के दौरान लिवाल रहे।

तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुरुआती तेजी के बाद 25.89 अंक या 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15590.42 पर बंद हुआ। कल यह 15616.31 था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 9.10 अंक या 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4509.50 पर बंद हुआ।

माकपा असैन्य परमाणु करार का शुरू से ही विरोध कर रही है। इससे पहले उसने इस मुद्दे पर संप्रग सरकार से समर्थन वापस लेने की धमकी दी थी।


बाजार सूत्रों ने बताया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज एसबीआई महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, टाटा मोटर, एसीसी, एलएंडटी, रिलायंस एनर्जी, मारुति और भेल के शेयरों में नुकसान दर्ज हुआ। बाजार में 1369 कंपनियों के शेयर लाभ के साथ और 1317 कंपनियों के शेयर नुकसान के साथ बंद हुए।
बाजार में कारोबार का आकार गुरुवार के मुकाबले आज कुछ अधिक रहा। आज 4890.42 करोड़ रुपए का कारोबार हुआ, जबकि कल यह 4670.89 करोड़ रुपए रहा।



और भी पढ़ें :