रिपोर्ट आने तक आईएईए से चर्चा नहीं

सरकार का वामदलों को आश्वासन, बैठक बेनतीजा

नई दिल्ली (वार्ता)| वार्ता|
हमें फॉलो करें
भारत-अमेरिका परमाणु करार पर कांग्रेस नीत सत्तारूढ़ संप्रग तथा सहयोगी वामदलों की राजनीतिक समिति की बैठक शुक्रवार को बेनतीजा रही, लेकिन वामदलों का कहना है कि सरकार ने समिति की रिपोर्ट आने तक समझौते पर अमल की दिशा में आगे कदम नहीं बढ़ाने का आश्वासन दिया है।


फारवर्ड ब्लाक के महासचिव देवव्रत विश्वास ने विदेशमंत्री प्रणब मुखर्जी के निवास पर समिति की मैराथन बैठक के बाद दावा किया कि मुखर्जी ने करार पर अमल के लिए अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) से औपचारिक बातचीत समिति की रिपोर्ट आने तक शुरू नहीं करने का आश्वासन दिया।

उन्होंने कहा कि बैठक में सरकार ने पहले वामदलों से अनुरोध किया कि वे भारत केन्द्रित सुरक्षा एवं निगरानी उपायों पर आईएईए के साथ चर्चा होने दें और इस संबंध में कोई समझौता समिति की रिपोर्ट आने तक रोक दिया जाए, लेकिन वामदलों ने इस सुझाव को खारिज कर दिया।

करार पर अमेरिकी हाइड कानून के असर, परमाणु ईंधन की सतत आपूर्ति जैसे तकनीकी सवालों पर वामदलों ने आज एक और नोट संप्रग को सौंपा।


वैसे इन तकनीकी मसलों पर किसी भी पक्ष के रुख में नरमी का कोई संकेत नहीं आते देख समिति ने अब इस पहलू पर दस्तावेजों के आदान-प्रदान तथा चर्चा का सिलसिला रोककर सामरिक साझेदारी तथा स्वतंत्र विदेश नीति तय करने के भारत के संप्रभु अधिकार पर करार के असर जैसे राजनीतिक सवालों पर चर्चा करने का फैसला किया है। समिति की अगली बैठक नौ अक्टूबर को करने का निर्णय लिया गया।



और भी पढ़ें :