कांग्रेस कोर ग्रुप की आपात बैठक

नई दिल्ली (वार्ता)| वार्ता| पुनः संशोधित सोमवार, 8 अक्टूबर 2007 (23:56 IST)
परमाणु करार को लेकर अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) के अधिकारियों से बातचीत की अनुमति देने से वाम दलों के इनकार पर विचार विमर्श को लेकर कांग्रेस के कोर ग्रुप की सोमवार देर रात प्रधानमंत्री आवास पर आपात बैठक हुई।


आईएईए के प्रमुख मोहम्मद अल बरदेई की भारत यात्रा से ठीक पहले विदेशमंत्री प्रणव मुखर्जी ने माकपा महासचिव प्रकाश करात और पार्टी के पोलित ब्यूरो सदस्य सीताराम येचुरी को बुलाकर उनसे आईएईए के अधिकारियों से बातचीत की अनुमति माँगी, लेकिन वाम नेताओं ने एक बार फिर इससे साफ इनकार कर दिया।

इसके साथ ही आईएईए से बातचीत को लेकर केंद्र की कांग्रेस नीत संप्रग सरकार और उसके महत्वपूर्ण वाम घटकों के बीच तकरार बढ़ गई है तथा मध्यावधि चुनावों को लेकर जारी अटकलें और तेज हो गई हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि संप्रग अध्यक्ष सोनिया गाँधी, मुखर्जी और रक्षामंत्री एके एंटनी सहित विभिन्न वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में कोर ग्रुप की बैठक हुई, जिसमें मौजूदा घटनाक्रमों पर चर्चा की गई।


सरकार ने स्पष्ट किया है कि वाम दलों को यह जान लेना चाहिए कि आईएईए के अधिकारियों से बातचीत को भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु समझौते पर अमल की दिशा में बढ़ाया गया कदम नहीं माना जाना चाहिए।
मुखर्जी से बातचीत के बाद दोनों नेताओं ने श्रीमती गाँधी से भी मुलाकात की थी।



और भी पढ़ें :