कोई खर्चीला तो कोई कंजूस

इंदौर| ND|
इस बार निर्वाचन आयोग की सख्ती का असर प्रत्याशियों के चुनावी में भी नजर आया। तय सीमा से ज्यादा राशि खर्च होने पर मुश्किल में पड़ने की बजाय प्रत्याशियों ने फूँक-फूँककर कदम रखे। नतीजा यह रहा कि निर्धारित 10 लाख की आधी राशि भी प्रत्याशियों ने खर्च नहीं की। हालाँकि अभी मतगणना तक खर्च का ब्योरा आयोग को प्रस्तुत करना है, लेकिन होने तक दो प्रत्याशियों का हिसाब 3 लाख रुपए से ज्यादा का नहीं था।


निर्वाचन आयोग ने इस बार न केवल प्रत्याशियों से समय-समय पर चुनावी खर्च माँगा, बल्कि प्रत्याशियों के प्रचार अभियान पर भी नजर रखी। चुनावी गतिविधियों की वीडियोग्राफी भी कराई गई। आयोग के सख्त रवैये के कारण इस बार नामांकन पत्र दाखिल करते समय प्रत्याशी न अधिक वाहन ले जा पाए और न ही प्रचार थमने के पहले क्षेत्रों में बड़ी रैलियाँ निकाली।
घोषित रूप से किए जाने वाले खर्च से प्रत्याशी बचते रहे। बाद में प्रत्याशियों को मिठाई या फलों से तौले जाने का खर्च भी चुनावी खर्च में जोड़ने के निर्देश जारी हुए थे। उम्मीदवारों द्वारा निर्वाचन कार्यालय को दिए गए चुनावी खर्च के ब्योरे पर विश्वास करें तो जिले में सबसे ज्यादा राशि (4 लाख रुपए से अधिक) साँवेर के कांग्रेस प्रत्याशी तुलसी सिलावट ने खर्च की है, जबकि क्षेत्र क्रमांक 3 के कांग्रेस प्रत्याशी अश्विन जोशी ने एक लाख रुपए में चुनाव लड़ा।

अन्य निर्दलीय प्रत्याशी तो 10 हजार से ज्यादा का खर्च भी प्रस्तुत नहीं कर पाए। क्षेत्र क्रमांक 4 में कांग्रेस प्रत्याशी गोविन्द मंघानी के मुकाबले बसपा प्रत्याशी रतन जायसवाल ने ज्यादा खर्च किए। इसी तरह क्षेत्र क्रमांक 3 के बसपा प्रत्याशी मुन्ना अंसारी ने दोनों प्रमुख दलों को चुनावी खर्च में पछाड़ा। सादगी से चुनाव लड़ने के लिए मशहूर क्षेत्र क्रमांक 2 के कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश सेठ ने भी भाजपा के रमेश मेंदोला के मुकाबले ज्यादा खर्च का हिसाब दिया है।

कांग्रेस प्रत्याशी सबसे आगे : जिले की नौ विधानसभा में खड़े कांग्रेस उम्मीदवारों ने भाजपा प्रत्याशियों की तुलना में ज्यादा पैसा खर्च किया। सिलावट के बाद खर्च करने के मामले में सत्यनारायण पटेल रहे। कांग्रेस प्रत्याशी अंतरसिंह दरबार ने भी चुनावी खर्च में भाजपा प्रत्याशी कैलाश विजयवर्गीय को पीछे छोड़ा। कांग्रेस प्रत्याशी संजय शुक्ला ने भी दो लाख से अधिक रुपए चुनाव में खर्च किए। यह राशि भाजपा प्रत्याशी से अधिक थी। (नईदुनिया)
कांग्रेस प्रत्याशी
चुनावी खर्च
भाजपा प्रत्याशी
चुनावी खर्च
संजय शुक्ला
2,27,006
सुदर्शन गुप्ता
1,89,352
सुरेश सेठ
1,71,708
रमेश मेंदोला
1,46,686
अश्विन जोशी
1,01,567
गोपी नेमा
1,36,902
गोविन्द मंघानी
1,11,198
मालिनी गौड़
1,79,045
शोभा ओझा
1,60,590
महेन्द्र हार्डिया
2,00,580
जीतू पटवारी
1,29,326
जीतू जिराती
1,35,893
तुलसी सिलावट
4,23,138
निशा सोनकर
2,28,573
सत्यनारायण पटेल
3,29,619
मनोज पटेल
1,31,044
अंतरसिंह दरबार
2,89,739
कैलाश विजयवर्गीय
2,33,862



और भी पढ़ें :