शांति के लिए बुद्ध के मार्ग पर चलें

भोपाल| वार्ता|
हमें फॉलो करें
शांति एवं समृद्धि बुद्ध के मार्ग पर चलकर आएगी। देश में व्याप्त आतंकवाद नक्सलवाद अराजकता के माहौल में बुद्ध के बताए मार्ग पर चलकर ही शांति समृद्धि व अहिंसा प्राप्त हो सकती है।


यह विचार साँची में आयोजित चैत्यगिरि बिहार 57वें वार्षिकोत्सव में जनसंपर्क संस्कृति एवं उच्च शिक्षा मंत्री श्रीलक्ष्मीकांत शर्मा ने व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि साँची व भीमबैठका जैसी दो-दो विश्व धरोहर रायसेन जिले में है। पुरातत्व विभाग के सहयोग से इनकी और ख्याति अर्जित हो सके ऐसे प्रयास किए जाएँगे। विदिशा के उदेश्वर मंदिर को भी विश्व स्तरीय ख्याति दिलाने के प्रयास किए जाएँगे।

उन्होंने कहा कि साँची के कार्यक्रम को अंतरराष्ट्रीय स्वरूप प्रदान करने के लिए अगले वर्ष से इसको भव्यता प्रदान की जाएगी। यह कार्यक्रम तीन दिवसीय होगा। इसी कड़ी में आज से तीन दिवसीय सांस्कृतिक महोत्सव प्रारंभ किया जा रहा है। जिसमें देशी एवं विदेशी कलाकार अपने नृत्य व नाटकों की प्रस्तुति करेंगे।

विदेशी श्रद्धालुओं को सुविधाएँ मिलें इसके लिए प्रदेश सरकार हर-संभव मदद करेगी। हवाई पट्टी की स्थापना के लिए जमीन खोजी जा रही है। (वार्ता)



और भी पढ़ें :