गाँव में नोटों की पहचान बताएगा रिजर्व बैंक

कानपुर| भाषा|
हमें फॉलो करें
FILE
छात्रों, व्यापारियों, सरकारी कर्मचारियों को नकली नोटों की और वित्तीय साक्षरता के बारे में जानकारी देने के बाद भारतीय अब किसानों को गाँवों में जाकर इसी तरह की जानकारी देगा।


किसानों के लिये इस तरह के वित्तीय साक्षरता शिविर लगाने का उद्देश्य उन्हें असली और नकली नोटों के बारे में पहचान कराना है ताकि देश से नकली नोटों के कारोबार पर अंकुश लगाया जा सके।

रिजर्व बैंक के कानपुर स्थित क्षेत्रीय निदेशालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक आगामी सात नवंबर को घाटमपुर विकास खंड के देवनपुर में आयोजित कृषि मेले में जागरकता शिविर का आयोजन कर रहा है, जिसमें किसानों को असली और नकली नोटों की पहचान तो कराई जाएँगी ही साथ ही साथ उन्हें वित्तीय साक्षरता के बारे में बताया जाएगा।

गौरतलब है कि इससे पहले रिजर्व बैंक स्कूली बच्चों, सरकारी संस्थानों में कार्यरत कर्मचारियों तथा व्यापारियों को वित्तीय साक्षरता देने तथा असली नकली नोटों की पहचान के बारे में ऐसे शिविर लगा चुका है। (भाषा)



और भी पढ़ें :