निवेशकों को सतर्क किया जाना चाहिए-भावे

मुंबई | भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 25 नवंबर 2009 (11:51 IST)
बाजार नियामक सेबी ने कहा कि जागरूकता कार्यक्रम चलाने वाली मध्यस्थ संस्थाओं को निवेश के के बारे में जरूर सतर्क करना चाहिए।


सेबी के अध्यक्ष सीबी भावे ने कहा कि मध्यस्थ संस्थाएँ जो निवेश जागरूकता कार्यक्रम चलाती हैं उनमें अंतर्विरोध है। क्योंकि मध्यस्थ ये परियोजनाएँ पैसे खर्च करके चलाते हैं और यह संभव नहीं है कि वे निवेश उत्पादों के जोखिम के बारे में निवेशकों को सतर्क करते हों।

भावे सेबी के सहयोग से एनएसई और सीएनबीसी टीवी18 द्वारा आयोजित निवेशक जागरूकता पहल के उद्घाटन के मौके पर बोल रहे थे।

म्युचुअल फंडों के खुलासे के बारे में भावे ने कहा कि इन योजनाओं में अंतर्निहित जोखिम को स्पष्ट करना चाहिए।


उन्होंने कहा कि जब जैसे संस्थान ऐसे जागरूकता कार्यक्रमों को हाथ में लेते हैं तो वे उम्मीद है कि वे लालच से बचेंगे और जोखिम का खुलासा करेंगे।
भावे ने कहा कि बाजार के सभी संबद्ध पक्षों के मिलकर काम करने की जरूरत है। सेबी अपनी ओर से निवेशकों को शिक्षित करने की कोशिश करेगी। (भाषा)



और भी पढ़ें :