अपने काम की चेकिंग

बड़े शहर में एक छोटा लड़का जनरल स्टोर पर गया। स्टोर पर साइड में रखे फोन तक पहुँचने के लिए उसने एक डिब्बा उठाया और उस पर चढ़ गया। लड़के ने एक नंबर डॉयल किया। दुकानदार ने इस बच्चे की तरफ देखा और कोई काम नहीं था तो बातचीत सुनने लगा। इस बच्चे ने फोन पर एक महिला से कहा- मैडम, क्या आप मुझे अपने यहाँ बगीचे की घास काटने के काम पर रख सकती हैं?


उधर से जवाब आया- मैं किसी को काम पर रख चुकी हूँ।

लड़के ने फोन पर कहा- पर मैं उसकी आधी तनख्वाह में काम करने को तैयार हूँ?


जवाब था- पर मैं उस लड़के के काम से खुश हूँ और उसे बदल नहीं सकती।

लड़के ने हार नहीं मानी और कहा- मैं लॉन में घास की कटाई के साथ आपके फर्श का पोंछा भी लगा दिया करूँगा और कारों को अच्छे से पोंछ दिया करूँगा।

महिला ने उधर से जवाब दिया- नहीं, अभी हम उस लड़के के काम से खुश हैं और उसे बदल नहीं सकती।
लड़के ने हार नहीं मानी और कहा - मैं लॉन में घास की कटाई के साथ आपके फर्श का पोंछा भी लगा दिया करूँगा और कारों को अच्छे से पोंछ दिया करूँगा।
महिला ने उधर से जवाब दिया - नहीं, अभी हम उस लड़के के काम से खुश हैं और हमें किसी की जरूरत नहीं है।
लड़के ने हँसकर फोन का रिसीवर रख दिया।
बातचीत के बाद जब लड़का जाने लगा तो दुकानदार ने कहा कि बच्चे मुझे तुम्हारा रवैया अच्छा लगा। अगर तुम चाहो तो तुम मेरे यहाँ काम कर सकते हो। लड़के ने कहा - धन्यवाद, पर मेरे पास काम है। मैं ही मैडम के यहाँ काम करता हूँ। मैं तो चेक कर रहा था कि वे मेरे काम से प्रसन्न हैं या नहीं।



और भी पढ़ें :