पाक में 7 सैनिक और 48 आतंकी मरे

इस्लामाबाद (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
FILE
पाकिस्तानी सेना द्वारा अपने खिलाफ की जा रही कार्रवाई के जवाब में तालिबान आतंकवादियों ने शनिवार को वजीरिस्तान में सड़क के किनारे एक बम विस्फोट कर सात सैनिकों की जान ले ली। वहीं सेना ने कार्रवाई करते हुए आतंकवादियों के दो प्रमुख ठिकानों पर कब्जा कर लिया, जबकि 48 आतंकवादियों को भी मार गिराया गया।


तालिबान की ओर से सीमावर्ती इलाकों में तैनात अर्धसैनिक बलों पर किया गया यह हमला उस वक्त हुआ जब जवान खैबर क्षेत्र से गुजर रहे थे। इस हमले में सात सैनिकों की मौत हो गई जबकि 11 घायल हो गए। पिछले एक महीने में सुरक्षा बलों पर हुआ यह सबसे बड़ा हमला था।

पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से तहरीक-ए-तालिबान के मुखिया हकीमुल्ला मेहसूद के ठिकानों पर जेट विमानों से किए गए हमलों में आठ आतंकवादी मारे गए थे, जबकि कई अन्य घायल हो गए थे। यह घटना ओरकजाई आदिवासी इलाके में हुई थी।

दक्षिणी वजीरिस्तान के कनीगुरम में भी पाकिस्तानी सेना ने तालिबान के ठिकानों पर हमला किया और दो प्रमुख आतंकवादी ठिकानों पर कब्जा जमा लिया। यहाँ सुरक्षाबलों ने एक तलाशी अभियान भी छेड़ दिया है।


आतंकवादियों ने घरों को बंकरों में तब्दील कर दिया है और शहर में बनी मीनारों में अपने ठिकाने बना लिए हैं। सेना की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि सुरक्षाबलों को शहर के विभिन्न हिस्सों में कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।
इस बीच, कनीगुरम में हुई ताजा झड़पों में तीन आतंकवादियों की मौत हो गई है। कनीगुरम के पास मौजूद करामा में हुई झड़प में 17 आतंकवादी मारे गए हैं और दो सैनिक घायल हुए हैं। सेना ने बताया कि सारारोगा के आसपास के इलाकों में 13 आतंकवादी मारे गए हैं। सेना के मुताबिक यहाँ काफी बड़ी तादाद में आतंकवादियों की मौजूदगी है।

अधिकारियों ने यह भी बताया है कि अफगान सीमा से करीब 70 किलोमीटर दूर कुर्रम कबाइली एजेंसी में हुए एक हवाई हमले में सात अन्य तालिबान लड़ाके मारे गए। दक्षिणी वजीरिस्तान से तकरीबन 10000 तालिबान और विदेशी आतंकवादियों के सफाए के लिए सेना ने अपने 28000 जवानों को तैयार किया है।



और भी पढ़ें :