चाय नहीं... हर्बल चाय लीजिए ......

WD
FILE

इसके नियमित सेवन से कई फायदे होते हैं। जिनमें मन शांत रहता है,सेहत अच्छी रहती है,पाचन तंत्र मजबूत रहता है,शरीर भीतर से साफ रहता है,उर्जा भी भरपूर बनी रहती है,तनाव दूर होता है,सर्दी-जुकाम से भी निजात मिल जाती है,नींद अच्छी आती है और चाय की तरह हर्बल चाय के सेवन से कैफीन की लत नहीं लगती। इसकी सबसे खास बात ये है कि पारंपरिक चाय की तरह इसमें दूध चीनी मिलाने की जरूरत नहीं होती।

कौन पी सकते हैं इस चाय को...
यह कैलोरी फ्री होती है। यही कारण है कि वजन कम करने के इच्छुकों में इसकी मांग लगातार बढ़ रही है। आम चाय की तरह में कैफीन जरा-सा भी नहीं होता। यह दिखता भले ही चाय जैसा है और इसे पारंपरिक चाय की तरह ही बनाया जाता है,पर चाय के जो अवगुण हैं,वह हर्बल चाय में बिल्कुल भी नहीं पाई जाती है। हर्बल टी में एंटीऑक्सीडेंट या फ्लेवोनॉयड भरपूर मात्रा में होते हैं,जो हृदय रोगों में लाभकारी होते हैं। फ्लेवोनॉयड खून को जमने से भी रोकते हैं और कैंसर की आशंका को कम करते हैं।



और भी पढ़ें :