देश में मध्यावधि चुनाव नहीं होंगे

गोठड़ा माताजी के ओटले से भविष्यवाणी

FILE

उज्जैन जिले में से 16 किमी दूर गोठड़ा माताजी के ओटले से हुई प्रसिद्ध भविष्यवाणी में कहा गया है कि देश में नहीं होंगे। देश एवं प्रदेश का राजा भी नहीं बदलेगा। किसानों के बीच इस लोकप्रिय आयोजन में आगामी वर्ष में अच्छी वर्षा होने से सोयाबीन, गेहू, प्याज, लहसुन, चना की फसल भरपूर होने की भविष्यवाणी भी की गई। शनिवार को भविष्यवाणी को सुनने सात राज्यों के करीब 20 हजार किसानों का हुजूम यहां जमा हुआ था।

चैत्र नवरात्रि पर मेले के अंतिम दिन यज्ञ की पूर्णाहुति के साथ ही में पूजा-अर्चना के साथ सवारी निकली और इसके बाद गोठड़ा माताजी के चबूतरे से पंडा रामचंद्र गायरी ने भविष्यवाणी की। यह क्रम पिछले 100 वर्षों से चला आ रहा है।

मलेनी नदी स्थित कुंड में बाड़ी विसर्जन के पश्चात चबूतरे तक गायरी पहुंचे और उन्होंने हजारों श्रद्धालुओं के समक्ष भविष्यवाणी शुरू की, तो वातावरण एकदम शांत हो गया। इस मौके पर कई जनप्रतिनिधि और नेता भी मौजूद थे। कृषकों का कहना था कि वे कई वर्षों से यहां आते हैं और यहां की भविष्यवाणी सुनकर आगामी योजना बनाते हैं।

FILE
पंडा द्वारा की गई भविष्यवाणियां
* जेठ माह में चार मावठे का योग बताया गया। इससे नुकसान खूब होगा।

* आधा आषाढ़ एवं बैठते सावन में बुआई होगी। सावन में पानी कम गिरेगा। भादवा में खूब वर्षा होगी।

* इस वर्ष अच्छी वर्षा के योग हैं, लेकिन कहीं कम वर्षा से कुएं खाली रहेंगे। अन्य प्रदेशों में अधिक वर्षा से कुएं भरेंगे।

* सोयाबीन, गेहूं, प्याज, मैथी, चना, टमाटर खूब होंगे। इनके भाव भी अच्छे मिलेंगे।

* लहसुन एवं कपास की फसल कमजोर आएगी। गेहूं में गेरुए का प्रकोप होगा।

* सोने-चांदी के भाव तेज रहेंगे।

* महंगाई बहुत बढ़ेगी, लेकिन किसानों की पैदावार भी अच्छी होगी।

* दुर्घटनाएं अधिक होंगी। अग्नि प्रकोप एकदम बढ़ेगा।

* कार्तिक माह में बीमारियां तेजी से बढ़ेंगी।

ND|
- अशोक लुणावत, वर्धमान बोहरा
* किसी देश में जोरदार भूकंप से सबकुछ नष्ट हो जाएगा।



और भी पढ़ें :