नर्मदा मैया की आरती : जय मां नर्मदे

narmada mta ki aarti 
 
आज मां नर्मदा जी की जयंती है। यह प्रतिवर्ष (narmada jayanti) माघ मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को मनाई जाती है। यहां पढ़ें माता नर्मदा (Maa Narmada) की आरती-


Maa Narmada Arti-मां नर्मदा की आरती

मां नर्मदा की आरती

ॐ जय जगदानन्दी, मैया जय आनंद कन्दी।
ब्रह्मा हरिहर शंकर, रेवा शिव हरिशंकर
रुद्रौ पालन्ती।
ॐ जय जगदानन्दी (1)
देवी नारद सारद तुम वरदायक, अभिनव पदण्डी।
सुर नर मुनि जन सेवत, सुर नर मुनि...
शारद पदवाचन्ती।
ॐ जय जगदानन्दी (2)

देवी धूमक वाहन राजत, वीणा वाद्यन्ती।
झुमकत-झुमकत-झुमकत,
झननन झमकत रमती राजन्ती।
ॐ जय जगदानन्दी (3)
देवी बाजत ताल मृदंगा,
सुर मण्डल रमती।
तोड़ीतान-तोड़ीतान-तोड़ीतान,
तुरड़ड़ रमती सुरवन्ती।
ॐ जय जगदानन्दी (4)

देवी सकल भुवन पर आप विराजत,
निशदिन आनन्दी।
गावत गंगा शंकर, सेवत रेवा
शंकर तुम भट मेटन्ती।
ॐ जय जगदानन्दी (5)

मैयाजी को कंचन थार विराजत,
अगर कपूर बाती।
अमर कंठ में विराजत
घाटन घाट बिराजत
कोटि रतन ज्योति।
ॐ जय जगदानन्दी (6)

मैयाजी की आरती
निशदिन पढ़ गा‍वरि,
हो रेवा जुग-जुग नरगावे
भजत शिवानन्द स्वामी
जपत हरिनंद स्वामी मनवांछित पावे।



और भी पढ़ें :